पंजीकरण संख्या KAP/03285/2022-2023 - शिक्षामित्र केयर समिति - उत्तर प्रदेश
होमपेज शिक्षामित्र सूची सहयोग सूची हमारे बारे में सन्देश नियमावली टीम जिला संयोजक शासनादेश संपर्क करे लॉगिन रजिस्टर

आइये जानते हैं शिक्षामित्र केयर समिति के बारे में क्या है SCS

आइये जानते हैं शिक्षामित्र केयर समिति के बारे में क्या है SCS

SCS शिक्षामित्रों का, समायोजित(सहायक अध्यापक) शिक्षामित्रों का, शिक्षामित्रों के द्वारा समूह से जुड़े समस्त प्रकार के शिक्षामित्रों के असामयिक मृत्यु होने पर उनके परिवार को आर्थिक सहायता देने हेतु बनाया गया है।


SCS का लक्ष्य

SCS का लक्ष्य है कि प्रदेश के सभी शिक्षामित्र इस टीम से जुड़े और टीम के किसी भी विधिक सदस्य की असामयिक मृत्यु पर उसके परिवार को सहयोग किया जाये।


SCS से कौन जुड़ सकता है।

SCS से बेसिक ,सर्व शिक्षा अभियान के शिक्षामित्र व शिक्षामित्र से बने समस्त अध्यापक जुड़ सकते हैं


SCS से कैसे जुड़ें

SCS से जुड़ने के लिए वेबसाइट https://scsup.in पर जाकर रजिस्ट्रेशन करे, साथ ही SCS के टेलीग्राम ग्रुप से अवश्य जुड़ जाए, समस्त अपडेट और जानकारी आपको टेलीग्राम ग्रुप से मिल जाएगी।


नियम

SCS से विधिक रूप से रजिस्ट्रेशन के पश्चात आपको ग्रुप पर अपडेट की नजर रखनी होगी, किसी साथी की मृत्यु पर उसके परिवार का सहयोग करके फार्म भरना अनिवार्य है। सहयोग करने पर ही सहयोग मिलेगा। नियम और अनुशासन सर्वोपरि है।


SCS की उपलब्धि

शिक्षामित्र केयर समिति की उपलब्धि आने वाले समय में अपने चरम पर होगी इसमें तीन प्रमुख योजनाएं सम्मिलित की गई हैं।

1 - सदस्य के न रहने पर उसके/उसकी नॉमिनी को ₹50 की आर्थिक मदद सीधे खाते में जुड़े हुए सभी सदस्यों के द्वारा की जाएगी। जिसका लॉकिंग पीरियड 45 दिन होगा। जुड़ने के 45 दिन बाद किसी भी प्रकार की अनहोनी होने पर आप लाभ के पात्र होंगे।

2 - शिक्षामित्र केयर सीमित से जुड़ा हुआ यदि कोई ऐसा सदस्य है जो अपनी बिटिया की शादी आर्थिक परेशानी की वजह से नहीं कर पा रहा है तो ऐसी परिस्थितियों में समिति से जुड़े सभी सदस्यों के द्वारा संबंधित बेटी अथवा संबंधित शिक्षामित्र के खाते में उपरोक्त की भांति ₹20 की मदद सभी सदस्यों के द्वारा की जाएगी उक्त स्कीम का लॉकिंग पीरियड छ: माह रखा गया है। 1 मार्च 2023 से 6 माह को संशोधन करके 22 माह किया जाता है। अब जुड़ने के 22 माह के बाद अपनी बेटी का विवाह कर सकते हैं। पूर्व की तरह लाभ पप्रदत्त होंगे।

3 - केयर समिति से जुड़े सदस्य के न रहने पर क्रम संख्या 1 पर अंकित मदद तो दी ही जाएगी साथ ही साथ 20,000 सदस्य पूर्ण होने पर आवेदन करता के न रहने पर उसकी, उसके नॉमिनी को ₹1 प्रत्येक सदस्य के द्वारा प्रति माह की दर से 2 वर्ष तक दिया जाएगा। और मृत सदस्यों की संख्या बढ़ने पर सहयोग राशि प्रति सदस्य के हिसाब से दी जाएगी।


सदस्यता शुल्क

SCS से जुड़ने हेतु कोई सदस्यता शुल्क नही देना है।


व्यवस्था शुल्क

व्यवस्था शुल्क 50 रुपये निर्धारित है, जोकि समिति के खाते में ऑनलाइन लिया जायेगा, और समय-समय पर समिति उसका हिसाब देगी। व्यवस्था शुल्क न जमा करने पर सदस्यता स्वतः समाप्त हो जाएगी।


उपरोक्त व्यवस्था में यदि कोई शिक्षामित्र फांसी लगाता है या जांच समिति द्वारा अथवा क्षेत्रीय स्तर पर लोगों द्वारा यह पता चलता है कि शिक्षामित्र ने आत्महत्या की है तो ऐसी स्थिति में किसी भी प्रकार का कोई भी लाभ देय नहीं होगा।

उपरोक्त समस्त स्कीम का लाभ समिति से जुड़े समस्त सदस्यों को प्राप्त होगा।

भविष्य में किसी भी मुद्दे को लेकर उसमें परिवर्तन करने का अधिकार शिक्षामित्र केयर समिति के फाउंडर मेंबर को होगा।

UP Map

शिक्षामित्र केयर समिति हेल्पलाइन नम्बर

9149180898 / 9451417384

कॉल करने का समय प्रातः १० बजे से शाम ५ बजे